वृक्षारोपण कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु जिलाधिकारी द्वारा चुनावी पैटर्न पर 03 जोनल व 54 सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात

वृक्षारोपण कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु जिलाधिकारी द्वारा चुनावी पैटर्न पर 03 जोनल व 54 सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात

वृक्षारोपण कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु जिलाधिकारी द्वारा चुनावी पैटर्न पर 03 जोनल व 54 सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात

बलरामपुर (प्रमोद पांडेय) - शासन द्वारा 09 अगस्त को वृह्द वृक्षारोपण हेतु निर्देश दिया गया है। पूरे प्रदेश में 9 अगस्त को 22 करोड़ पौधारोपण किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 9 अगस्त को जनपद में वृह्द रूप से विभिन्न विभागों द्वारा वृक्षारोपण का निर्देश जिलाधिकारी कृष्णा करुणेश द्वारा दिया गया है। जनपद में कुल 26 लाख 82 हजार 665 पौधरोपण का लक्ष्य आवांटित किया गया है। 9 अगस्त को होने वाले कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु जिलाधिकारी द्वारा विकास खण्डवार जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। जोनल मजिस्ट्रेट के रूप में उप जिलाधिकारी व सेक्टर मजिस्ट्रेट के रूप में जिला स्तरीय अधिकारियों को नियुक्त किया गया है। समस्त सेक्टर मजिस्ट्रेट अपनी कार्यक्षेत्र में गड्ढा खुदान, रोपण स्थल की जीओ टैगिंग, पौधशाला  से ग्राम पंचायत में पौध पहॅुचाने, पौध वितरण व पौधरोपित किये जाने का सत्यापन का कार्य करेंगें।  9 अगस्त को समस्त सेक्टर मजिस्ट्रेट पौधरोपण की संकलित सूचना ग्राम पंचायत स्तर से खण्ड विकास अधिकारी को एक-एक घण्टे पर उपलब्ध करायेगें । खण्ड विकास अधिकारी अपने-अपने विकास खण्ड की सूचना संकलित कर प्रभागीय वनाधिकारी, बलरामपुर कार्यालय को उपलब्ध करायेगें। जोनल मजिस्ट्रेट तहसील स्तर पर किसी भी आकस्मिक कठिनाई के त्वरित व सामायिक निस्तारण हेतु कार्य करेंगें। तहसील स्तर पर जोनल वृक्षारोपण समन्वयक के रूप में वन विभाग के क्षेत्रीय वन अधिकारी कार्य करेंगें तथा पौधे की उपलब्धता तकनीकी जानकारी आदि सुनिश्चित करायेगें। 9 अगस्त को होने वाले वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु बैठक मुख्य विकास अधिकारी व अपर जिलाधिकारी व डीएफओ की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न की गई। बैठक में समस्त जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट उपस्थित रहे। बैठक में डीएफओ ने कहा कि 26 विभागों द्वारा पौधरोपण किया जाना है। ग्राम्य विकास विभाग, राजस्व विभाग, पंचायती राज विभाग, वन विभाग, उद्यान विभाग, बेसिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, कृषि विभाग की भूमिका महत्वपूर्ण है। डीएफओ ने कहा कि जिन विभागों द्वारा पौधरोपण किया जाना है। वे संबन्धित अधिकारी 9 अगस्त से पूर्व गड्ढा खुदाई का कार्य पूर्ण कर लें। विभागों द्वारा डिमाण्ड के आधार पर वन विभाग द्वारा पौधशालाओं में पौधे उपलब्ध करा दिये गये है।  सभी विभाग 9 अगस्त से पूर्व पौधशालाओं से पौधे उठाने का कार्य कर लें। अपर जिलाधिकारी अरुण कुमार शुक्ल ने कहा कि सभी अधिकारी इस कार्यक्रम की महत्ता को समझते हुये कार्य करें। गड्ढे खुदाई का कार्य पूर्ण कर लें। समस्त सेक्टर मजिस्ट्रेट पौधरोपण की सूचना कंट्रोल रूम को देना सुनिश्चित करेंगें। अपर जिलाधिकारी ने कहा कि हमारी कोशिश रहे कि अधिक से अधिक संख्या में पौधरोपण किया जाए व कार्यक्रम सफल बनाने में अपना शतप्रतिशत योगदान दें।

Post a Comment

0 Comments