कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा और प्रेमानंद महाराज में सुलाह नहीं, राधा रानी को लेकर की गई टिप्पणी पर जारी है मतभेद matbhed Aajtak24 News


कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा और प्रेमानंद महाराज में सुलाह नहीं, राधा रानी को लेकर की गई टिप्पणी पर जारी है मतभेद matbhed Aajtak24 News 

भोपाल - कथा के दौरान राधा रानी को लेकर पंडित प्रदीप मिश्रा द्वारा की गई टिप्पणी पर पंडित मिश्रा और प्रेमानंद महाराज में मतभेद जारी है। हाल ही में यह सामने आया था कि दोनों के बीच अब सुलह हो गई है। हालांकि सुलह की यह खबर झूठी निकली। कथावाचक पंडित मिश्रा और संत प्रेमानंद महाराज को लेकर सोशल मीडिया में भी लोग दो धड़ों में बंट गए हैं। दोनों ही धड़ों में दोनों के समर्थन और विरोध को लेकर कहा जा रहा है। जानकारी अनुसार कथा के दौरान पंडित मिश्रा द्वारा राधा रानी को लेकर की गई टिप्पणी पर प्रेमानंद महाराज आक्रोशित हो गए थे। इसके बाद दोनों में मतभेद का दौर जारी रहा। हाल ही में यह सामने आया कि दोनों संतों में अब सुलह हो गई है। साथ ही किसी प्रकार का मतभेद भी नहीं रहा है। हालांकि इसके बाद सलाह की यह खबर झूठी निकली है। जानकारी में यह भी सामने आया कि मध्य प्रदेश शासन के नगरीय आवास एवं विकास मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने दोनों के बीच मध्यस्थ बन मतभेद दूर करने का काम किया। हालांकि यह खबर बाद में झूठी निकली है। स्वयं मंत्री विजयवर्गीय ने दोनों के बीच किसी भी प्रकार की मध्यस्थता से इनकार किया है। यह भी सामने आया था कि वृंदावन के किसी संत ने भी दोनों के मध्य फोन कर सुलह करवाने की कोशिश की है। हालांकि इसकी भी किसी प्रकार से पुष्टि नहीं हो पाई है। संत प्रेमानंद महाराज की ओर से उनके दो प्रतिनिधियों ने भी एक वीडियो जारी कर यह बताया है कि किसी प्रकार की सलाह नहीं हो पाई है। अब देखना है कि कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा और प्रेमानंद महाराज के बीच जारी यह मतभेद कब समाप्त हो पाते हैं।



Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News