थाना प्रभारी गढ़ के नाम पर सरपंच से 25 हजार की ठगी, फ्राड ने खाते में डलवाई राशि rashi Aajtak24 News

 


थाना प्रभारी गढ़ के नाम पर सरपंच से 25 हजार की ठगी, फ्राड ने खाते में डलवाई राशि rashi Aajtak24 News 

रीवा - इन दिनों साइबर क्राइम काफी तेजी से बड़ा है और अलग-अलग तरह से फ्रॉड करके लोगों से ठगी की जा रही है इसी तरह का एक मामला रीवा जिले के मनगवां थाना क्षेत्र से सामने आया है जहां थाना प्रभारी गढ़ के नाम से फोन करके सरपंच से 25000 खाते में ट्रांसफर करवा लिया गया है घटना को लेकर गढ़ थाना में पीड़ित ने शिकायत दर्ज कराई है देखा जा रहा है कि अधिकारियों के नाम पर भी ठगी करने वाले लोग रुपए ऐंठना शुरू कर दिए हैं बताया गया है कि दिनांक 27/ 3/.2024 को वंश गोपाल पटेल पिता जगदीश प्रसाद पटेल निवासी रामपुरवा थाना मनगवां द्वारा गढ़ थाने में आकर शिकायत दर्ज कराए हैं। एक तरफ जहां गरीबों को लालच देकर ठगी की जाती है तो वहीं दूसरी तरफ अब प्रभावशाली व्यक्तियों के नाम से सहयोग मांगकर लोगों के साथ ठगी कर दी जाती है। पीड़ित फरियादी बंश गोपाल पटेल ने बताया कि टी आई गढ़ के नाम पर हमको फोन आया की ₹25000 खाते में डाल दो फिर हम दे देंगे मैं बालक से 10000 विभिन्न किस्तों में डाल दिया इसके बाद उनसे पूछा कि पैसा प्राप्त हो गया तब भी वह बताएं कि हां मैं टी आई बोल रहा हूं पैसा 10000 प्राप्त हो गया है जब थाने आकर कंफर्म किया तो यह नंबर टी आई का नहीं था इस संबंध में थाना प्रभारी गढ़ विकास कपीस से बात की गई उनके द्वारा बताया गया कि मुझे शिकायत प्राप्त हुई है संबंधित मनगवां थाना क्षेत्र की घटना है शिकायत प्राप्त कर संबंधित थाने को भेज दिया गया है साथ ही यह स्थानीय लोगों और जनप्रतिनिधियों को सजग करना चाहता हूं कि इस तरह के फोन और पैसे की मांग पर सावधान रहें और यदि ऐसे फोन आते हैं तो तत्काल मेरे मोबाइल नंबर या वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को तत्काल ऐसी घटना की सूचना दें जिससे ऐसे व्यक्तियों को चिन्हित करके उनके ऊपर कारवाई की जा सके और ठगी से लोगों को बचाया जा सके। यह सनसनी घटना यह बताने के लिए काफी है कि ठग अब किसी भी अधिकारी के नाम पर इस तरह से पैसों की डिमांड कर सकते हैं ऐसे में लोग बिना पुष्टि किए पैसा खातों में डाल देते हैं ठगी करने वाले लोगों द्वारा गरीबों और संपन्न लोगों को झांसा देकर ठगी करते हैं बड़े अधिकारियों या प्रभावशाली व्यक्तियों का नाम सुनकर लोग प्रभावित हो जाते हैं और ठगी के शिकार हो जाते हैं ठगों द्वारा गरीबों को लालच देकर ठगी की जाती है तो वही संपन्न लोगों से सहयोग के तौर पर ठगी कर दी जाती है इस घटना के बाद से लोगों को यह समझ लेना चाहिए कि किसी के साथ भी इस तरह से धोखाधड़ी की जा सकती है ऐसे में सावधान रहे और अगर इस तरह से फोन है आती है तो बिना पुष्टि किए किसी के खाते में रुपए ट्रांसफर ना करें।





Sarpanch cheated of Rs 25 thousand in the name of police station incharge Garh, fraudster deposited the amount in the account

Rewa - These days, cyber crime is very big and people are being cheated by doing fraud in different ways. A similar case has come to light from Mangawan police station area of ​​Rewa district, where the police station in-charge is calling in the name of Garh. ₹ 25000 has been transferred to the account of the Sarpanch. The victim has lodged a complaint regarding the incident in the Garh police station. It is seen that people who are cheating in the name of officials have also started extorting money. It has been told that on 27/ On 3/2024, Vansh Gopal Patel's father Jagdish Prasad Patel, resident of Rampurwa police station Mangawan came to Garh police station and lodged a complaint. On one hand, the poor are cheated by luring them, while on the other hand, people are cheated by asking for help in the name of influential people. Victim complainant Bansh Gopal Patel told that we got a call in the name of TI Garh that put ₹ 25000 in the account and then we will give it to the child. I deposited ₹ 10000 in different installments from the boy. After this he asked him that even after receiving the money, he Please tell me that yes I am TI, I have received the money of ₹ 10000. Today when I came to the police station and confirmed, this number was not TI's. In this regard, I talked to the station in-charge Garh Vikas Kapis and he told that I have received a complaint. The incident has happened in the concerned Mangawan police station area. The complaint has been received and sent to the concerned police station. Also, I want to alert the local people and public representatives to be cautious about such calls and demands for money and if such calls come then Immediately inform my mobile number or senior police officers about such incident so that such persons can be identified and action can be taken against them and people can be saved from fraud.

Comments

Popular posts from this blog

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News