मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पित निर्माण कार्यों की सौगातें, जो उज्जैन शहर को मिलेंगी | Mukhyamantri dvara lokarpit nirman karyo ki sogate

मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पित निर्माण कार्यों की सौगातें, जो उज्जैन शहर को मिलेंगी

मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पित निर्माण कार्यों की सौगातें, जो उज्जैन शहर को मिलेंगी

उज्जैन (रोशन पंकज)​ - बुधवार को मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा लोकार्पित विभिन्न निर्माण कार्यों की सौगातें शीघ्र ही शहरवासियों को मिलने लगेंगी। इसका विवरण इस प्रकार है-

1.​35.29 करोड़ रुपये की लागत से शहर में इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम, निगरानी कैमरा, ऑटोमैट्रिक नम्बर प्लेट रिकग्नेशन सिस्टम, रेड लाईट वॉयलेशन डिटेक्शन सिस्टम, स्पीड वॉयलेशन डिटेक्शन सिस्टम, वेरिएबल मैसेज साईन बोर्ड, सार्वजनिक उद्घोषण प्रणाली, इमरजेंसी कॉल बॉक्सी सिस्टम, 16 ट्रैफिक जंक्शन, सात एंट्री एक्जिट पाइंट पर निगरानी कैमरा, स्पीड डिटेक्शन 12 स्थानों पर और 40 स्थानों पर वेरिएबल मैसेज साईन बोर्ड लगाये जायेंगे। प्रोजेक्ट से यातायात नियंत्रण में सहायता मिलेगी और आपराधिक गतिविधियों पर भी निगरानी की जा सकेगी। वेरिएबल मैसेजिंग स्क्रीन के प्रयोग से नागरिकों को शासन के विभिन्न सन्देशों एवं सूचनाओं से अवगत कराया जा सकेगा।

2.​नूतन स्कूल परिसर के विकास में 35.21 करोड़ रुपये की लागत से फर्नीचर तथा स्कूल परिसर में 2745 छात्र क्षमता का परिसर निर्मित किया गया है। महाकालेश्वर मन्दिर के समीप घनी आबादी क्षेत्र में स्थित स्कूल जिनमें महाराजवाड़ा स्कूल क्रमांक-2 बालक उमा शाला, महाराजवाड़ा स्कूल क्रमांक-3 बालक उमा शाला, महाराजवाड़ा सराफा कन्या उमा शाला, महाकाल मैदान प्राथमिक शाला, महाकाल मैदान माध्यमिक शाला, हरसिद्धि गोंड बस्ती प्राथमिक शाला, नूतन स्कूल माध्यमिक शाला तथा बालक छात्रावास एवं संस्कृत महाविद्यालय है। वर्तमान स्कूलों की छात्र क्षमता 1907 है।

​नूतन स्कूल में प्राचार्य कक्ष, पुस्तकालय, बहुउद्देशीय हॉल, प्राथमिक चिकित्सा कक्ष, संस्कृत महाविद्यालय हेतु छात्रावास, प्रयोगशाला तथा मैदान निर्मित किये गये हैं। यह स्कूल नवीन फर्नीचर और स्मार्ट क्लास की सुविधाओं सहित होंगे। इन पर सौर ऊर्जा हेतु सोलर पैनल लगाये गये हैं। विद्यालय में अच्छी किस्म का फर्नीचर स्थापित किया गया है। इसमें प्राचार्य हेतु टेबल एवं एक्जीक्यूटिव चेयर, कॉन्फ्रेंस टेबल सहित स्टाफ रूम फर्नीचर, लेखा विभाग हेतु स्टोरेज फर्नीचर, लाइब्रेरी बुक रेक एवं स्टडी टेबल, विजिटर्स चेयर, लेब फर्नीचर, स्टूडेंट डेस्क एवं चेयर, मेस फर्नीचर, डोरमेट्री फर्नीचर, कम्प्यूटर टेबल, वर्क स्टेशन आदि गुणवत्तायुक्त फर्नीचर स्थापित किया गया है।

नवनिर्मित विद्यालय परिसर से आसपास के क्षेत्र के छात्रों हेतु आधुनिक सुविधायुक्त शिक्षण संस्थान उपलब्ध होगा। विद्यालय में स्मार्ट क्लास का प्रावधान होने से छात्रों को शिक्षण की नई रूचिकर पद्धति से शिक्षा प्राप्त करने का अवसर प्राप्त होगा।

3.​गणेश कॉलोनी स्कूल निर्माण 10.64 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। उक्त भूमि का कुल क्षेत्रफल 16,522.60 वर्गफीट एवं कुल निर्मित क्षेत्रफल 41763.97 वर्गफीट है। हरिफाटक के नीचे स्थित तीन स्कूलों को नवीन स्कूल परिसर निर्मित कर स्थानान्तरित किया जा रहा है। स्कूल विस्थापन हेतु स्कूल परिसर में 900 छात्र क्षमता का स्कूल परिसर निर्मित किया गया है। वर्तमान स्कूलों की छात्र क्षमता 622 छात्रों की है। स्कूल में प्राचार्य कक्ष, पुस्तकालय, बहुउद्देशीय हॉल, प्राथमिक चिकित्सा कक्ष, प्रयोगशाला तथा मैदान का प्रावधान है।

​यह स्कूल नवीन फर्नीचर और स्मार्ट क्लास की सुविधाओं सहित होंगे तथा इन पर सौर ऊर्जा हेतु सोलर पैनल लगाये गये हैं। नवनिर्मित विद्यालय परिसर से आसपास के क्षेत्र के छात्रों के लिये आधुनिक सुविधाओंयुक्त शिक्षण संस्थान उपलब्ध होंगे। विद्यालय में स्मार्ट क्लास का प्रावधान होने से छात्रों को शिक्षण की नई रूचिकर पद्धति से शिक्षा प्राप्त करने का अवसर प्राप्त होगा। नूतन स्कूल परिसर एवं गणेश कॉलोनी स्कूल परिसर में विद्यालयों के स्थानान्तरण से इन विद्यालयों की भूमि एवं भवनों का उपयोग स्मार्ट सिटी के हैरिटेज धर्मशाला, हॉकर्स झोन, भूमिगत पार्किंग एवं ब्रिज चौड़ीकरण प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन हेतु किया जा सकेगा।

4.​श्री महाकालेश्वर मन्दिर एवं प्रांगण में स्थित अन्य मन्दिरों पर आकर्षक विद्युत सज्जा 3.24 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। महाकाल मन्दिर एवं समीप स्थित मुख्य मन्दिरों पर गतिशील लाईटिंग का प्रावधान किया गया है। आकर्षक विद्युत साज-सज्जा से मन्दिर की सुन्दरता और भव्यता में वृद्धि होगी, जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

5.​रूफटॉप सोलर एनर्जी उत्पादन कार्य दो करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। इसके अन्तर्गत नवनिर्मित नूतन और गणेश कॉलोनी स्कूल पर बिजली उत्पादन हेतु 400 किलोवाट क्षमता का सौर ऊर्जा का प्रोजेक्ट स्थापित किया जायेगा। नूतन विद्यालय परिसर में 210 किलोवाट क्षमता और गणेश कॉलोनी विद्यालय में 30 किलोवाट क्षमता मेला कार्यालय में 100 किलोवाट क्षमता और स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में 60 किलोवाट क्षमता के प्रोजेक्ट लगाये जाना प्रस्तावित किया गया है। इससे विद्यालय के बिजली के खर्च में कमी आयेगी। साथ ही ऊर्जा के नवीकरण स्त्रोत के प्रयोग से पर्यावरण को भी लाभ मिलेगा।

6.​उज्जैन विकास प्राधिकरण द्वारा नानाखेड़ा में 13.04 करोड़ की लागत से शॉपिंग कॉम्पलेक्स निर्मित किया गया है।

Post a Comment

0 Comments