सांप्रदायिक सद्भाव एवं भाईचारे पर संगोष्ठी संपन्न | Sampradayik sadbhavna evam bhaichare pr sangoshti sampann

सांप्रदायिक सद्भाव एवं भाईचारे पर संगोष्ठी संपन्न

सांप्रदायिक सद्भाव एवं भाईचारे पर संगोष्ठी संपन्न

भिण्ड (मधुर कटारे) - हम फाउंडेशन शाखा भिंड द्वारा सांप्रदायिक सद्भाव एवं भाईचारे पर एक संगोष्ठी का आयोजन 1 अगस्त दिन रविवार को डीपीएमआई सेंटर पर किया गया संगोष्ठी के अवसर पर हम फाउंडेशन मध्य प्रदेश के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रोफेसर इकवाल अली , प्रांतीय महासचिव नितिन दिक्षित शाखा संरक्षक महेंद्र चौधरी, प्रोफेसर रामानंद शर्मा,शाखा अध्यक्ष शैलेश सक्सेना, शाखा उपाध्यक्ष योगेश शर्मा, शाखा सचिव विपुल सेठ, सेवा संस्कार प्रमुख धर्मेंद्र जैन, सेवा प्रमुख प्रखर त्रिवेदी, विकास कुशवाह आदि उपस्थित थे।

सांप्रदायिक सद्भाव एवं भाईचारे पर संगोष्ठी संपन्न

संगोष्ठी का शुभारंभ भारत माता और स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। संगोष्ठी में मुख्य वक्ता के रूप में प्रोफेसर इकवाल अली ने कहा कि संगोष्ठी का उद्देश समाज के सभी धर्मों और वर्गों के बीच सांप्रदायिक सौहार्द और आपसी भाईचारे की भावना को बढ़ावा देना है और क्षेत्र के विकास के लिए सकारात्मक वातावरण बनाना था। इसी क्रम में प्रांतीय महासचिव नितिन दीक्षित ने कहा कि हम भारतीय परिपेक्ष में सांप्रदायिकता पर दृष्टिपात करें तो यह आधुनिक राजनीति के उद्भव का ही परिणाम है हालांकि इससे पूर्व भी भारतीय इतिहास में हमें ऐसे कुछ उधार मिलते हैं जो सांप्रदायिकता की भावना को बढ़ावा देते हैं। इसी क्रम में शाखा संरक्षक रिटायर्ड लॉ ऑफीसर महेंद्र चौधरी ने कहा कि सांप्रदायिकता से तात्पर्य संकीर्ण मनोवृत्ति से है जो धर्म और संप्रदाय के नाम पर पूरे समाज तथा राष्ट्र के व्यापक हितों के विरुद्ध व्यक्ति को केवल अपने व्यक्तिगत धर्म के हितों को प्रोत्साहित करने तथा उन्हें संरक्षण देने की भावना को महत्व देती है। संगोष्ठी में अपने व्यक्त करते हुए शाखा अध्यक्ष शैलेश सक्सेना ने कहा कि एकता और भाईचारा किसी प्रगतिशील समाज की मूलभूत जरूरत है लेकिन समाज विभिन्न जातियों और संविधान में बटा हुआ है। संगोष्ठी को प्रोफेसर रामानंद शर्मा शाखा सचिव विपुल सेठ धर्मेंद्र जैन योगेश शर्मा आदि ने भी संबोधित किया।

Post a Comment

0 Comments