कोरोना में करुणा भी दिखाना हैं, भूखे प्यासे पशु पक्षियों की प्यास एवं भूख भी मिटाना हैं - सुनील असराठी | Corona main karuna bhi dikhana hai bhuke pyase pashu pakshiyo ki pyas evam bhuk bhi mitana hai

कोरोना में करुणा भी दिखाना हैं, भूखे प्यासे पशु पक्षियों की प्यास एवं भूख भी मिटाना हैं - सुनील असराठी

शहर में घूम रहे बन्दरो के सुनील ने भोजन एवं पानी पिलाकर  उनकी प्यास एवं भूख मिटाई

कोरोना में करुणा भी दिखाना हैं, भूखे प्यासे पशु पक्षियों की प्यास एवं भूख भी मिटाना हैं - सुनील असराठी

छिंदवाड़ा (शुभम सहारे) - जिला अस्पताल में पदस्थ वार्ड वाय सुनील असराठी ने कोरोना में करुणा भी दिखाना हैं प्यासे एवं भूखे पशु पक्षियों की प्यास एव भूख भी मिटाना इसी उद्देश्य से बुधवार को रघुवंशी पूरा दतोत्र मन्दिर के पास घूम रहे बन्दरो को पानी पिलाया एवं उन्हें खाना खिलाकर भूख मिटाया। श्री असराठी ने लोगों से अपील की हैं की अगर आपके घर आस पास कोई पशु पक्षियों घूमते नजर आए तो उन पर करुणा दिखाए एवं पानी खाना खिलाये। क्योंकि हम मनुष्य खाना बनाकर खा सकते है लेकिन पशु पक्षियों कहा से खा सकते हैं। 

कोरोना में करुणा भी दिखाना हैं, भूखे प्यासे पशु पक्षियों की प्यास एवं भूख भी मिटाना हैं - सुनील असराठी

अगर वह आपके घर के पास कोई पशु पक्षी तो भोजन एव पानी की तलाश में आ जाये तो उन जरूर करूणा दिखाकर उनके लिये छत पर पानी एवं खाने का कुछ समान रखें। बता दे कि सुनील असराठी समाज सेवा के क्षेत्र में लगातार लगे हुए हैं। कोरोना की दूसरी लहर में वह जिला अस्पताल में सेनेटाइजर करते हैं तो वही इस गम्भीर परिस्थिति में सुनील आगे आकर मरीजो के परिजनों का हौशला बढ़ाते हैं एवं स्वयं मरीज को डॉक्टर तक लेकर जाते है और मरीज का इलाज कराते है। इस प्रकार लगातार जिला अस्पताल में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इस अवसर पर सुनील असराठी के सरहनीय कार्य के लिये गोलू असराठी, शिवसिंग डेहरिया, रिया असराठी, सांक्षी असराठी आदि ने खुशी जाहिर करते हुए बधाई दिए एवं अपने घर की छत पर पानी के पात्र एवं खाने के लिए दाने रखने का संकल्प लिया। श्री असराठी जी कहते है कि नर सेवा  ही नारायण सेवा हैं।

Post a Comment

0 Comments