पुरुषों से अधिक बढ़-चढ़ कर महिलाओं ने लगाई साप्ताहिक बाजार की बोली | Purusho se adhik bad chad kr mahilao ne lagai saptahik bazar ki boli

पुरुषों से अधिक बढ़-चढ़ कर महिलाओं ने लगाई साप्ताहिक बाजार की बोली

आजीविका मिशन की महिलाओ ने लिया बोरगांव बाजार का ठेका

पुरुषों से अधिक बढ़-चढ़ कर महिलाओं ने लगाई साप्ताहिक बाजार की बोली

बोरगांव/सौंसर (गयाप्रसाद सोनी) - विगत तीन सप्ताह से बोरगांव साप्ताहिक बाजार सोमवार का ठेका हेतु प्रचार -प्रसार किया जा रहा था,जिसके पंपलेट भी छपवाकर वितरण कराए गए व मुनादी भी कराई गई, जिसमें पहली बार सिर्फ दो पुरुष ठेकेदारों ने भाग लिया, लेकिन सिर्फ दो व्यक्ति द्वारा भाग लेने के कारण बाजार ठेका स्थागित कर,अगले सप्ताह के लिए बढ़ाया गया, फिर अगले सप्ताह पुनःसिर्फ तीन ठेकेदारों ने भाग लिया, जिसकी नीलामी बोली की प्रक्रिया ग्राम पंचायत भवन में रखी गई ,लेकिन शासन के निर्देशानुसार सरकारी बोली ₹2,60,000 (दो लाख साठ हजार) होने के कारण ठेकेदारों ने सिर्फ ₹2,25,000(दो लाख पच्चीस हजार) तक की ही अंतिम बोली लगा पाई, जो सरकारी बोली से भी कम थी,जिसमें ग्राम के सरपंच द्वारा निर्णय लिया गया कि सरकारी बोली से कम बाजार का ठेका नहीं दिया जाएगा, और जल्द ही  पंचायत की आचार संहिता भी लगानी है, इस लिए शासन के आदेशानुसार महिलाओं को भी मौका देना जरूरी है, फिर बोरगांव में आजीविका मिशन स्व-सहायता महिला समूह से जुड़ी सभी महिलाओं को सूचना देकर उन्हें भी एक मौका दिए जाने हेतु सोमवार के दिन ग्राम पंचायत भवन में बाजार की  नीलामी हेतु आमंत्रित किया गया,जिसमें लगभग 12 महिला स्व सहायता समूह ने अपनी स्व इच्छा से ठेका नीलामी में भाग लिया, बाजार से सम्बंधित सभी नियम व शर्तें ग्राम पंचायत के सचिव द्वारा पढ़कर बताया गया, और फिर महिलाओं ने एक से बढ़कर एक अपनी बोली लगाना शुरू की, जिसमें सर्वाधिक व अंतिम बोली दुर्गा शक्ति आजीविका मिशन महिला स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष, सचिव ने लगाई ₹2,70,000(दो लाख सत्तर हजार रुपए) जिसमें ग्राम के सरपंच श्रीमती चंपाबाई,ने अंतिम बोली 2,70,000(दो लाख सत्तर हजार रुपए) पर अपनी सहमति देकर उन्हें 1 वर्ष 1मार्च 2021 से 31अप्रैल 2022 तक के लिए साप्ताहिक बाजार सोमवार का ठेका दिया गया ,एवं शासन के आदेशानुसार सभी शर्तें बताई गई, व स्टांप पर एग्रीमेंट करने की समझाइश दी गई व अमानत राशि 40,0000 जमाकर बाकी राशि का विवरण समझाया गया सभी सहायता समूह की महिलाओं ने ग्राम पंचायत सरपंच एवं सभी पंचो का आभार माना,जिन्होंने महिला शक्ति को समझकर उन्हें भी बोरगांव बाजार ठेका में भाग लेने का मौका दिया।

Post a Comment

0 Comments