कांवर भरने गए चाचा भतीजे की गंगा नदी में डूब जाने से हुई मौत | Kanvar bharne gaye chacha bhatije ki ganga nadi main dub jane se hui mout

कांवर भरने गए चाचा भतीजे की गंगा नदी में डूब जाने से हुई मौत 

ग़ाव में फैला सन्नाटा त्यौहार हुआ गमगीन

कांवर भरने गए चाचा भतीजे की गंगा नदी में डूब जाने से हुई मौत

भिंड (मधुर कटारे) - जानकारी अनुसार जिले भर से हर वर्ष हजारो की संख्या में युवा काँवर भरने भोले बाबा के दरबार में उत्तर प्रदेश  श्रंगीराम पुर जाते है ओर अपनी मन की मुराद से काँवर भर कर भिंड वापिश आते है  इसी आस्था से  

जिले भर के अलग अलग स्थानों से युबा भी गए है ।एक 16 वर्षीय युवक बॉबी बाथम पहली काँवर में माँगी मन्नत पूरी हो जाने के बाद फिर एक बार अपनी माँ का आशीर्वाद लेकर काँवर भरने निकल  गया है ।इसी आस्था के चलते भोले बाबा से अपनी मन्नत पूरी कराने के उद्देश्य से हर भक्त युबा बुजुर्ग सभी काँवर भरने के लिए श्रंगीराम पुर पहुचते है 

आँखों देखी बात का काँवर भरने गए युबाओ ने किया वर्णन तो पाव तले जमीन ही खिसक गई भिंड देहात बार्ड क्रमांक 35 के दो चाचा भतीजे ग्राम हरवंश की खोड के रहने बाले है ।जो कि इस वर्ष अपने भतीजे को जोटिया बनाकर काँवर भरने के लिए गए हुए थे चाचा भतीजे जब काँवर सजा ने के लिए तैयार हो रहे थे तभी  भतीजा अजय पिता उत्तम सिंह बघेल उम्र 18 वर्ष निवासी ग्राम हरवंश की खोड गंगा नदी में नहाते समय डूबने लगा जिंसको बचाने के लिए चाचा जनक सिंह उर्फ पटेल पिता कल्याण सिंह बघेल उम्र 24 वर्ष निवासी हरवंश की खोड ने छलांग लगा दी अन्य लोग कुछ समझ पाते किसी को यह पता ही नही चला कि आखिर मामला क्या है ।काफी देर बात जब दोनों लोग पानी के ऊपर नही आये तो अन्य लोगो ने शोर मचाकर डूबने की सूचना एक दुषरे काँवर बाले को दी ,सूचना फैलते ही नदी में नाव चला रहे मल्लाह के नदी में छलांग लगा दी गोता खोरो की मदद से दोनो की बॉडी निकाली गई है म्रतको की पुष्टि 

भिंड देहात थाने के अंतर्गत बार्ड 35 हरवंश की खोड के रहने बाले चाचा भतीजे बघेल समाज के नाम की हुई है ।

जिला प्रसासन को उत्तर प्रदेश के पुलिस के द्वारा सूचना दे दी गई है ।सुबह तक शव परिजनों को पोस्टमार्टम के बाद सुपुर्द कर दिए जाएंगे ।

Post a Comment

0 Comments