औद्योगिक क्षेत्र विकास के लिए 41 करोड़ रु से अधिक की राशि मंजूर | Audhyogik shetr vikas ke liye 41 crore ru se adhik ki rashi manjur

औद्योगिक क्षेत्र विकास के लिए 41 करोड़ रु से अधिक की राशि मंजूर

जावरा विधायक डॉ. राजेन्द्र पाण्डेय के अथक प्रयासों से जावरा क्षेत्र में आई विकास की गति

रतलाम-झाबुआ (संदीप बरबेटा):- जावरा विधानसभा क्षेत्र के विधायक राजेंद्र जी  पांडेय के अथक  प्रयासों से बहु उत्पाद औद्योगिक क्षेत्र जावरा को विकसित करने की कार्ययोजना को अंतिम रूप दे दिया गया है। औद्योगिक क्षेत्र विकास के लिए 41 करोड़ रु से अधिक  की राशि से विभिन्न अधोसरंचना के कार्य किये जाएगे l ये कार्य शीघ्र प्रारम्भ किये जायेगे l 

     उक्त आशय की जानकारी म.प्र. औद्योगिक विकास निगम इंदौर के कार्यपालन यंत्री शैलेन्द्र जैन ने जावरा विधायक डॉ. राजेन्द्र पाण्डेय के साथ बैठक कर दी है। विधायक डॉ. पाण्डेय के प्रयासों से जावरा शुगर मिल परिसर को बहु उत्पाद ओद्योगिक क्षेत्र जावरा के रूप विकसित करने की स्वीकृति दी जा चुकी है। उसके पश्चात राज्य शासन के निर्देश पर म.प्र. औद्योगिक विकास निगम लिमिटेड क्षेत्रीय कार्यालय इंदोर ने डीपीआर तेयार कर कार्ययोजना को अंतिम रूप दिया गया जिसकी स्वीकृति दी जाकर टेंडर प्रक्रिया शुरू की गयी है।

    बैठक में श्री जैन ने बताया कि बहु उत्पाद औद्योगिक क्षेत्र जावरा में विभिन्न उद्योगों को निवेशा के लिए विभिन्न कदम उठाना शुरू कर दिए है। प्रथम चरण में लगभग 100 से अधिक उद्योगों के लिए प्लाट का आवंटन किया जाएगा। इन औद्योगिक क्षेत्र को विकसित करने के लिए लगभग 41 करोड़ रु से अधिक की राशि से अधोसरंचना के विभिन्न कार्य किये जाएगे जिसमे प्रमुख रूप से 24 घंटे विद्युत व्यवस्था किये जाने विद्युत उपकेंद्र स्थापित किया जाएगा। इसके अलावा क्षेत्र में सीसी सडक, नालियों, पुलिया का निर्माण, स्ट्रीट लाईट, विद्युतीकरण व्यवस्था की जायेगी। औद्योगिक क्षेत्र के लिए जल प्रदाय हेतु आरसीसी ओवरहेड टेंक, संपवेल और पाईप लाईन का कार्य किया जाएगा। पूरे क्षेत्र में ड्रेनेज लाईन की व्यवस्था भी की जाएगी। निवेशकर्ता उद्योगों को गोदाम व कर्मचारी आवास के अलावा अन्य मुलभुत सुविधाए भी उपलब्ध कराई जायेगी। 

    उल्लेखनीय है कि विधायक डॉ. पाण्डेय द्वारा बहु उत्पाद औद्योगिक क्षेत्र जावरा को विकसित करने के लिए विगत कई वर्षो से प्रयास कर रहे है जिसके चलते विगत वर्षो राज्य शासन ने फ़ूड प्रोसेसिंग पार्क की घोषणा भी की थी जिसे बाद में टेक्स्टाईल पार्क के रूप में स्वीकृति दी गई। अब बहु उत्पाद औद्योगिक क्षेत्र अंतिम रूप लेने जा रहा है। इस क्षेत्र के विकास से जावरा विधानसभा क्षेत्र में ओद्योगिक विकास को पंख लग जायेगे।

Post a Comment

0 Comments