देशभर में बढ़ती बलात्कार की घटनाओं को लेकर जयस ने तहसीलदार को सौपा ज्ञापन | Deshbhar main badti balatkar ki ghatanao ko lekar jays ne

देशभर में बढ़ती बलात्कार की घटनाओं को लेकर जयस ने तहसीलदार को सौपा ज्ञापन

देशभर में बढ़ती बलात्कार की घटनाओं को लेकर जयस ने तहसीलदार को सौपा ज्ञापन

अलीराजपुर (रफीक क़ुरैशी) - उत्तरप्रदेश समेत देश के विभिन्न राज्यों में हुई बलात्कार की घटनाओं को अंजाम देने वाले दरिंदों पर तत्काल कार्यवाही कर  फांसी की सजा की मांग करते हुए जय आदिवासी युवा शक्ति (जयस) सोण्डवा ने तहसीलदार सोण्डवा कैलास सस्तिया को राष्ट्रपति एवं राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर जयस के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। इस अवसर पर जयस के गोविंद डावर ने कहा कि उप्र हाथरस की निर्भया के शव व उसके परिवार के साथ उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जो अमानवीय व्यवहार किया गया है वह बहुत निंदनीय हैं। ऐसी सरकार को तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए ओर बलात्कारियों को तत्काल फ़ास्ट ट्रेक कोर्ट में सुनवाई करते हुये फाँसी की सजा दी जावे। संदीप वास्कले ने कहा कि उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में चंदपा थाना क्षेत्र  के अंतर्गत 14 सितंबर को दलित समाज की 19 वर्षीय बेटी खेत में घास काटने गई, युवती को 4 दरिंदों ने अगवाकर उसके साथ गैंग रेप किया, उसकी जीभ काट दी गई, गर्दन एवं कमर तोड़ दी गई I इस हैवानियत की शिकार बेटी ने 29 सितंबर को सफदरजंग अस्पताल मैं अंतिम सांस ली। उसके बाद वहां की सरकार ने अपने राजनीतिक स्वार्थ के चलते अमानवीय तरीके से उस निर्भया के शव को रोते-बिलखते परिवार से छुपाकर पेट्रोल-डीजल डालकर जला दिया गया। अब उसके परिवार को तीन दिनों तक बंधक बनाकर प्रताड़ित किया गया। उप्र सरकार के द्वारा तानाशाही रवैया अपनाया गया जो कि बहुत ही शर्मनाक है।  दिनेश चौहान ने कहा कि उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले मैं गैसड़ी थाना क्षेत्र के अंतर्गत 29 सितंबर को एक निजी महाविद्यालय में दाखिला  लेने गई बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार   हुआ। पूरे देश में आक्रोश व्याप्त है, बलात्कारियों को फाँसी की सजा होना ही चाहिए, ताकि भविष्य में कोई भी इस प्रकार की घटना को अंजाम ना दे सके। इंदरसिंह तोमर एवं अतुल तोमर ने कहा कि मध्यप्रदेश के धार जिले में ग्राम अवल्दामान मे एक महिला की अर्द्धजली लाश मिली, इस ओर भी मध्यप्रदेश सरकार कोई कठोर कार्यवाही नही कर रही है, जिससे प्रदेश और देश में गुंडाराज को बढ़ावा दिया जा रहा है, इस ओर तत्काल कार्यवाही होना चाहिए। गोविंद अजनार ने कहा कि गुजरात राज्य में भी माहीसागर में सामूहिक दुष्कर्म, जामनगर में 15 वर्षीय युवती के साथ दुष्कर्म किया गया। वही  मोरबी मैं भी दुष्कर्म का सामने आया है, इसके बाद भी सरकारों के द्वारा कोई ठोस कदम नही उठाया जा रहा है। ये देश के लिए बहुत शर्मनाक बात है। ऐसी सरकारों को धिक्कार हैं। सुनील चौधरी ने कहा कि मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में ग्राम झिरन्या मे 30 अक्टूबर को तीन दरिंदो ने 15 वर्षीय बालिका का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया, साथ ही राजस्थान से भी दुष्कर्म की खबरें आई है, इतनी बड़ी-बड़ी घटनाओं के बाद भी सरकारों व जनप्रतिनिधियों के कानों में जु नही रेंग रही है। इस कारण से युवाओं भारी आक्रोश है। हमारे देश की महिलाओं के खिलाफ बढ़ती भयानक घटनाओं ने देश को हिलाकर रख दिया है। गोविंद सोलंकी ने कहा कि लोकतांत्रिक देश में संवैधानिक मूल्यों को ताक पर रखकर मानवता को शर्मसार करने वाले कृत्य के किए  सरकार को तत्काल बर्खास्त किया जाए व इसके जिम्मेदारों पर कठोरतम कानूनी कार्यवाही की जाए। इस अवसर पर नसरा डावर, रामसिह तोमर, रूपसिंह सोलंकी, कुँवरसिंह कलेश, रिपला चौहान, रितेश वास्केला, सहदार वसक्ला, कुँवरसिंह कनेश, काडलिया कलेश, नसरसिंह डावर, होलकर रावत, राकेश सस्तिया, बलसिंह चौहान, अगेश वास्केले, गोविंद भयडिया, प्रदीप वास्केले, नरसिया डावर सहित सैकड़ों महिला-पुरुष उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments