शिक्षकों की स्वास्थ्य जांच के लिए कैंप आयोजित | Shikshako ki swasthya janch ke liye camp ayojit

शिक्षकों की स्वास्थ्य जांच के लिए कैंप आयोजित

शिक्षकों की स्वास्थ्य जांच के लिए कैंप आयोजित

रतलाम - जिले के सैलाना विकासखंड के शासकीय हाईस्कूल कुंडा में संकुल स्तरीय कैंप का आयोजन किया जाकर शिक्षको का स्वास्थ्य परिक्षण किया गया, जिसमें शिक्षक-शिक्षिकाओं की स्वास्थ्य जांच एवं सेम्पल लिए गए। संकुल प्राचार्य श्री गजराजसिंह सिसोदिया ने बताया कि स्वास्थ्य जांच केम्प 2 दिन चला, प्रथम दिवस 35 शिक्षकों की स्वास्थ्य जांच की गई तथा दूसरे दिन 55 शिक्षक-शिक्षिकाओं की स्वास्थ्य जांच की गई। कुल 90 शिक्षक-शिक्षिकाओं का स्वास्थ्य परिक्षण किया गयाl स्वास्थ्य परिक्षण दल में मेडिकल ऑफिसर डॉ. किरण कुमार परमार, लैब टेक्नीशियन जांचकर्ता श्री सुरेंद्रसिंह राठौड़, एएनएम सुशीला महावर सहित स्वास्थ्यकर्मी उपस्थित रहे।

जिले में अब तक 37 इंच से अधिक वर्षा

रतलाम 4 सितम्बर 2020 - जारी मानसून सत्र के दौरान जिले में 4 सितम्बर की सुबह 8.00 बजे तक करीब 930 मिलीमीटर (37 इंच से अधिक ) वर्षा औसत रूप से दर्ज की गई है। भू-अभिलेख शाखा से प्राप्त जानकारी के अनुसार 4 सितम्बर की सुबह 8.00 बजे समाप्त हुए पिछले 24 घंटों के दौरान बाजना में 13 मिलीमीटर तथा रतलाम में 3 मिलीमीटर, वर्षा दर्ज की गई। पिछले वर्ष आज दिनांक तक जिले में कुल 1141.4 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई थी।

शिक्षक दिवस पर उच्च शिक्षा मंत्री प्राध्यापकों से करेंगे संवाद

रतलाम 4 सितम्बर 2020 - उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव शिक्षक दिवस 5 सितम्बर को दोपहर एक बजे से प्रदेश के प्राध्यापकों से वेबिनार के जरिये संवाद करेंगे। कोरोना काल की चुनौतियों के बीच भी शिक्षक दिवस के पारम्परिक आयोजन में मध्यप्रदेश सरकार कोई कोर कसर नहीं रखना चाहती है। हालाँकि इस बार यह आयोजन अनूठा होगा, जिसमें तकनीक का सहारा लिया जा रहा है।

विभाग ने बाकायदा इसकी विशेष तैयारी की है और लिंक के जरिये प्रदेशभर के प्राध्यापकों को इससे जुड़ना भी सुनिश्चित कर लिया है। इस विशेष आयोजन में मंत्री डॉ. यादव वेबिनार के माध्यम से उच्च शिक्षा की चुनौतियों के साथ नई शिक्षा नीति को लेकर भी प्राध्यापकों से बात करेंगे। नई शिक्षा नीति में विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के साथ आत्मनिर्भरता, कौशल विकास, भारतीय मूल्यों और आदर्शों जैसे कई बहुउपयोगी विषयों का समावेश किया गया है।

मंत्री बनने के बाद डॉ. यादव प्राथमिकता से नई शिक्षा नीति को मध्यप्रदेश में बेहतर तरीके से लागू करवाने के लिए कृतसंकल्पित हैं। वे इस बारे में अपनी इच्छा का इजहार पूर्व में भी कर चुके हैं। इसके क्रियान्वयन के सूत्रधार और बुनियाद शिक्षक ही हैं। डॉ. यादव ने इसकी शुरुआत के लिए शिक्षक दिवस का चयन किया है। उच्च शिक्षा मंत्री ने शिक्षकों को शुभकामनाएं और बधाई देते हुए कहा कि नई शिक्षा नीति के विभिन्न पक्षों को प्रदेश भर के प्राध्यापकों के सामने रखकर इसके बेहतर क्रियान्वयन को सुनिश्चित किया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments