पेयजल परीक्षण एवं स्वच्छता पखवाड़ा 25 सितम्बर से 10 अक्टूबर तक मनाया जायेगा | Payjal evam swachta pakhwada 25 september se

पेयजल परीक्षण एवं स्वच्छता पखवाड़ा 25 सितम्बर से 10 अक्टूबर तक मनाया जायेगा

कलेक्टर ने जागरूकता रथ को हरी झंडी देकर रवाना किया

विभिन्न गांवों में जाकर पेयजल संरक्षण और संवर्धन की जागरूकता रथ के माध्यम से फैलाई जायेगी

पेयजल परीक्षण एवं स्वच्छता पखवाड़ा 25 सितम्बर से 10 अक्टूबर तक मनाया जायेगा

उज्जैन (रोशन पंकज) - कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने शुक्रवार को कोठी पैलेस से लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा जल जीवन मिशन के अन्तर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संरक्षण और संवर्धन के लिये जागरूकता फैलाने हेतु जाने वाले रथ को हरी झंडी देकर रवाना किया। उल्लेखनीय है कि जिले में लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी विभाग के अन्तर्गत पेयजल परीक्षण एवं स्वच्छता पखवाड़ा 25 सितम्बर से 10 अक्टूबर तक आयोजित किया जायेगा।
कार्यपालन यंत्री पीएचई ग्रामीण श्री एसके धारीवाल ने जानकारी दी कि पेयजल स्वच्छता पखवाड़े के अन्तर्गत यह रथ विभिन्न विकास खण्डों के अन्तर्गत आने वाले गांवों में दो से तीन दिन तक भ्रमण करेगा तथा जिन गांवों में यह जागरूकता रथ जायेगा, वहां के पेयजल स्त्रोतों की केमिकल टेस्टिंग टीम द्वारा की जायेगी। विभाग द्वारा पेयजल की टेस्ट किट आंगनवाड़ी व स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपलब्ध कराई गई है।
इसमें ग्राम पंचायतों से अपील की जायेगी कि ग्राम की पेयजल योजना के संचालन-संधारण के लिये ग्राम पेयजल उप समिति का गठन करें। नवीन नल जल योजना हेतु विभाग में ग्राम पंचायत/ग्राम सभा के माध्यम से प्रस्ताव भेजें, हैण्ड पम्प व अन्य जल स्त्रोतों को प्रदूषित होने से बचायें, वर्षा जल संग्रहण से भूजल संवर्धन में सहयोग करें, घरेलु नल कनेक्शन का प्रयोग करें और बीमारियों से बचें। जल को व्यर्थ न बहायें, नलों में टोटी अवश्य लगायें। जल परीक्षण किट एफटी एक्वा किट के माध्यम से जल गुणवत्ता परीक्षण में आवश्यक सहयोग करें तथा पेयजल स्त्रोतों के नामांकन, स्वच्छता सर्वेक्षण व क्लोरीनेशन में विभाग को सहयोग करें।
टीम द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की टेस्टिंग कर वहां की जनता को भी पानी का सेम्पल लेने और उसकी जांच करने की विधि बताई जायेगी, ताकि वे अपने स्तर से भी समय-समय पर पेयजल की जांच कर सकें। साथ ही पेयजल सुरक्षा और स्वच्छता की भी जानकारी ग्रामीणजनों को प्रदाय की जायेगी जैसे पेयजल स्त्रोत के प्लेटफार्म के आसपास गन्दगी न फैलायें, पानी की शुद्धता बनाये रखें। शासन द्वारा हर ग्राम में एफटी एक्वा टेस्ट किट मुहैया करवाई गई है। साथ ही रथ द्वारा जल जीवन मिशन के अन्तर्गत गांव के प्रत्येक घर में नल कनेक्शन योजना का भी व्यापक प्रचार-प्रसार किया जायेगा। ग्रामीणजनों को जल संरक्षण के महत्व के बारे में भी बताया जायेगा तथा इसके अन्तर्गत विभिन्न उपायों की जानकारी भी पेम्पलेट के माध्यम से उपलब्ध कराई जायेगी।
प्रचार रथ को रवाना किये जाने के दौरान सहायक यंत्री श्री सीताराम जांगड़े, सुश्री निधि मिश्रा, श्री प्रवीण लोकरे, श्री अमित सिंह, जिला सलाहकार श्रीमती मनोरमा शर्मा, सुश्री भगवती कोटे, उपयंत्री श्री एन सलीम, श्री विनोद बागड़ी, श्री ऋषि जैन और विकास खण्ड समन्वयक श्री संदीप मालवीय और श्री ठाकुर मौजूद थे।
(फोटो संलग्न)
क्रमांक 2771        अनिकेत/जोशी

Post a Comment

0 Comments