आलमारियों के लॉकर तोड़कर चोरों ने उड़ाए लाखों रूपए के सोने के आभूषण | Almariyo ke locker todkar choro ne udaye lakho rupye ke sone ke abhushan

आलमारियों के लॉकर तोड़कर चोरों ने उड़ाए लाखों रूपए के सोने के आभूषण

इलाज कराने नागपुर गया था पूरा परिवार, खिड़की की ग्रिल तोड़कर मकान में घुसे चोर

दो आलमारियों के लॉकर तोड़कर उड़ाए जेवरात

आलमारियों के लॉकर तोड़कर चोरों ने उड़ाए लाखों रूपए के सोने के आभूषण

छिंदवाड़ा/पांढुर्ना (अवतार सिंग) - घनपेठ मार्ग पर स्थित ठेकेदार इकबाल पटेल के सूने मकान में धावा बोलकर अज्ञात चोरों ने करीब पंद्रह लाख रूपए कीमत के लगभग 26 तोले सोने के आभूषणों पर हाथ साफ कर दिए। पूरा परिवार इलाज के चलते नागपुर गया था और करीब दो दिन तक मकान बंद रहा। इसी बात का फायदा उठाकर चोरों ने वारदात को अंजाम दिया।

आलमारियों के लॉकर तोड़कर चोरों ने उड़ाए लाखों रूपए के सोने के आभूषण

मिली जानकारी के अनुसार भोपाल रोड से बाजार होते हुए घनपेठ जाने वाले मार्ग पर ठेकेदार इकबाल पटेल का मकान है। यहां उनके बेटे सोहेल और सोयेब परिवार सहित रहते है। बीते सोमवार को पूरा परिवार सोहेल के इलाज के चलते नागपुर गया था। इस दौरान मकान में ताला लगा था। बुधवार की रात जब लौटे तो घर की खिड़की की ग्रिल टूटी हुई मिली। वहीं जब परिवार के सदस्यों ने अपने-अपने कमरों की सुध ली तो सोहेल की मम्मी के कमरे की आलमारी और सोयेब व छोटी बहू के कमरे की लकड़ी की आलमारी के लॉकर टूटे मिले। आलमारियों का सारा सामान भी बिखरा पड़ा मिला।


परिवार के अनुसार मम्मी के पास रखे पुराने आभूषण और गत नवंबर में सोयेब की शादी में आए नए आभूषण सभी लॉकरों में रखे थे, जो सारे गायब मिले। जिसमें छोटी बहू के आलमारी से चार चूड़ी पांच तोला, चपला कंटी हार पांच तोला, चैन वाले कान के 2.50 तोला, नेकलेस 2.4 तोला, दो कंगन 2.2 तोला, पांच अंगूठी 2.5 तोला, एक लॉकेट एक तोला और मम्मी के आलमारी से दो कंगन पांच तोला सहित कुल 26 तोला सोने के आभूषण शामिल है। सोने के आभूषण के अलावा लगभग दस हजार रूपए नकद चोरी हुए। सूचना मिलते ही एसआई संजीव त्रिपाठी ने मौके पर जाकर मुआयना किया और अज्ञात चोरों के खिलाफ अपराध क्रमांक 441/2020 के तहत 380 व 457 मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी। नवागत एसडीओपी अजीत पटेल ने भी मामले को लेकर सघन जांच करने के आदेश दिए।

आलमारियों के लॉकर तोड़कर चोरों ने उड़ाए लाखों रूपए के सोने के आभूषण

एफएसएल और साइबर क्राइम की टीम मौके पर पहुंची:

मामले की गंभीरता को देखते हुए एफएसएल और साइबर व क्राइम ब्रांच की टीमें घटनास्थल पर पहुंच गई। टीम के अधिकारियों ने पूरे मकान का मुआयना करते हुए आवश्यक साक्ष्य जुटाए। परिवार के सदस्यों ने बताया कि नागपुर जाते समय खिड़की और दरवाजे अच्छे से बंद करके गए थे। पर जब लौटे तो खिड़की के पल्ले खुले थे और ग्रिल टूटी हुई मिली। एफएसएल टीम और पुलिस अधिकारियों ने परिजनों के अलावा कुछ संदिग्धों के बयान लेकर और घटनास्थल की स्थिति को देखते हुए मामले की जांच शुरू की। अज्ञात चोरों ने सोने के आभूषणों और नकदी पर ही हाथ साफ किया, जबकि आलमारी के अलावा अन्य सामान व्यवस्थित पड़ा रहा। सोमवार और मंगलवार की रात परिवार घर में नही था। इन दोनों दिनों में से किसी एक दिन चोरी हुई है।

Post a Comment

0 Comments