गांजा तस्करी मामले में गिरफ्तार दपत्ति पुलिस अभिरक्षा से चकमा देकर हुए फरार | Ganja taskari mamle main giraftar dampatti police abhiraksha

गांजा तस्करी मामले में गिरफ्तार दपत्ति पुलिस अभिरक्षा से चकमा देकर हुए फरार

आरोपी दपत्ति मंगोली-पुनी वैनगंगा नदी घाट से पुन: गिरफ्तार

गांजा तस्करी मामले में गिरफ्तार दपत्ति पुलिस अभिरक्षा से चकमा देकर हुए फरार

बालाघाट (देवेंद्र खरे) - आपको बता दें कि 11 जुलाई रविवार को लॉक डॉउन में पकड़ाए गांजा तस्करी के आरोपी दंपति नवीन और उसकी पत्नी अंजली आज सुबह तबियत का बहाना कर कोतवाली थाने से फरार हो गए थे। जहां घटना के बाद पुलिस में हड़कंप की स्थिति मच गई। इधर जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी द्वारा फरार आरोपियों की गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपए का इनाम भी घोषित कर दिया था। वही पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने बताया कि कोतवाली थाने से फरार आरोपियों की सरगर्मी से तलाश की जा रही थी साथ ही सभी थानों को अलर्ट करने के साथ ही पड़ोसी जिले मंडला, सिवनी और गोंदिया पुलिस से भी बालाघाट पुलिस लगातार संपर्क कर रही थी। 


आपको बता दे फरार हुए दंपत्ति एक दिन पूर्व ही रविवार को 5 किलो गांजे के साथ कोतवाली पुलिस के हत्थे चढे थे। जहां पुलिस जांच कार्यवाही कर इन्हे न्यायालय में पेश करने वाली थी। लेकिन पुलिस इन्हे न्यायालय पेश करती इसके पहले ही ये आरोपी दंपत्ति 13 जुलाई की सुबह करीब 05 बजे पुलिस को चकमा देकर पुलिस अभिरक्षा से फरार हो गये थे। जहां घटना के बाद पुलिस महकमे में हडकंप सा मच गया था तो वही पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल भी खडे होने लगे थे। वही सुत्रो के हवाले से खबर लगी है कि मंगोली में मवेशी चरवाई करने गये ग्वाल ने इनके मंगोली में होने की सुचना हट्टा थाना पुलिस को दी। जहां पुलिस ने तत्काल घेराबंदी कर इन्हे पकडने का प्रयास किया। लेकिन फरार आरोपी दंपत्ति ने अपनी सुरक्षा करने की मंशा से जान को ही जोखिम में डाल दिया और मंगोली-पुनी वैनगंगा नदी में छलाग लगा दी। इसके पहले कोई अप्रिय घटना घटती पुलिस और स्थानीय ग्रामीणो ने इन्हे सुरक्षा पूर्वक नदी से बाहर निकाल लिया। जहां पुलिस महकमे ने इन्हे पुन: गिरफ्तार कर कोतवाली थाने ले आये !!

Post a Comment

0 Comments