मुनिश्री समय सागर महाराज के आचार्य पदारोहण का दृश्य देखकर धन्य हुआ - मुख्यमंत्री डॉ. यादव yadav Aajtak24 News


मुनिश्री समय सागर महाराज के आचार्य पदारोहण का दृश्य देखकर धन्य हुआ - मुख्यमंत्री डॉ. यादव yadav Aajtak24 News 

दमोह - मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि आज कुण्डलपुर में आचार्य पदारोहण महामहोत्सव में आकर ऐसा लग रहा है कि देवताओं की भी आंखें तरस रही होगीं आज के इस दृश्य को देखकर। आचार्य समय सागर जी महाराज के पदारोहण के इस दृश्य को देखकर हम सभी इसे समझने की कोशिश करते रहेंगे, लेकिन सही अर्थ में यह हमें समझ में नहीं आएगा कि हम कौन सी दुनिया में पहुंच गए हैं। यह विचार मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने आज देश के सबसे बड़े जैन तीर्थ स्थल कुण्डलपुर में आचार्य मुनिश्री समय सागर महाराज के आचार्य पदारोहण महा महोत्सव में व्यक्त किये। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख डॉ मोहन भागवत भी उपस्थित थे। डॉ मोहन यादव ने कहा कि ऐसा लग रहा है परमात्मा ने यह क्षण देकर हमारे जीवन को धन्य कर दिया हैं। मैं आपको प्रणाम करता हूं, धन्यवाद करता हूं। उन्होंने कहा भारत की विशेषता और परमात्मा की कृपा है कि इस पृथ्वी पर कई जन्मों के पुण्य के बाद मृत्यु लोक में ऐसे कुछ क्षण मिलते हैं, जो हमारे जीवन को धन्य कर जाते हैं। मानव से महामानव और महामानव से देवत्व धारण कर लें, ऐसे देवता के दर्शन हो जाए तो वाकई जीवन धन्य हो जाता है। ऐसा लगता है अब इस घड़ी के बाद कुछ बचा नहीं, सब कुछ प्राप्त हो गया है। उन्होंने कहा कि अपने जीवन काल में आचार्य विद्यासागर जी महाराज जीते जी देवत्व धारण कर गये, उनकी कृपा से हमारी सरकार बनी तो हमने पहली कैबिनेट के पहले निर्णय में कुछ बातें इस प्रकार से जोड़ी, जिस कारण से हमारी सनातन संस्कृति युगो-युगो से दुनिया में अलग जानी जाती है। डॉ. मोहन यादव ने कहा कि यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में नई शिक्षा नीति 2020 लागू हुई है, जिसके माध्यम से भारत को गौरवशाली भारत के रूप में जाना जाएगा। उस गौरवशाली भारत की भावी पीढ़ी को उस लायक बनाया जाएगा, जिसके कारण वह गर्व महसूस कर सके और गौरान्वित हो सकें। हमने भगवान महावीर स्वामी के वीरपदों एवं 24 तीर्थंकरों के वीरपदों को पाठ्यक्रम में हिस्सा दिया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने बताया कि सागर में शुरू किए जाने वाले आयुर्वैदिक मेडिकल कॉलेज का नाम आचार्य विद्यासागर महाराज के नाम से किया गया है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने निर्णय लिया के खुले में मांस नहीं बिकने दिया जाएगा, जिसका पालन भी कराया गया है। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव आज शाम करीब 4,30 बजे प्रसिद्ध जैन तीर्थ क्षेत्र कुंडलपुर पहॅुचे थे। हेलीपैड से वे सीधे कार्यक्रम स्थल विद्यासागर मंडपम पहॅुचे, जहां मंच पर उन्होंने आचार्य श्री समय सागर जी महाराज और जैन मुनियों से आशीर्वाद लिया। महामहोत्सव में भाग लेकर डॉ. यादव हेलीपेड से जबलपुर के लिए रवाना हो गये। इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वी.डी. शर्मा, पंचायत एवं ग्रामीण तथा श्रम मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल, पशुपालन एवं डेयरी विभाग राज्यमंत्री श्री लखन पटेल, संस्कृति, पर्यटन, धर्मस्व न्यास एवं धार्मिक न्याय राज्यमंत्री धर्मेन्द्र सिंह लोधी, पूर्व मंत्री एवं दमोह विधायक जयंत कुमार मलैया, पूर्व मंत्री एवं पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष डाँ रामकृष्ण कुसमरिया, विधायक हटा उमादेवी खटीक, विधायक सागर शैलेन्द्र जैन, हिदानंद शर्मा, पूर्व विधायक अजय टंडन सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद रहे। 



Blessed to see the ascension of Munishree Samay Sagar Maharaj as Acharya - Chief Minister Dr. Yadav

Damoh - Chief Minister Dr. Mohan Yadav said that after coming to Acharya Padarohan Mahamahotsav in Kundalpur today, it seems that even the eyes of the gods must be yearning after seeing this scene of today. Seeing this scene of the ascension of Acharya Samay Sagar Ji Maharaj, we all will keep trying to understand it, but in the true sense we will not understand which world we have reached. Chief Minister Dr. Mohan Yadav expressed these views today at the Acharya Padarohan Maha Mahotsav of Acharya Munishree Samay Sagar Maharaj in Kundalpur, the country's largest Jain pilgrimage site. Rashtriya Swayamsevak Sangh chief Dr. Mohan Bhagwat was also present on this occasion. Dr. Mohan Yadav said that it seems that God has blessed our lives by giving us this moment. I salute you, thank you. He said that it is the specialty of India and the grace of God that after many virtuous lives on this earth, we get some such moments in the world of death, which bless our lives. If one transforms from a human being to a great man and from a great man to a divinity, one gets the darshan of such a deity, then life becomes truly blessed. It seems that after this moment nothing is left, everything has been achieved. He said that during his lifetime, Acharya Vidyasagar Ji Maharaj attained divinity while alive, by his grace our government was formed, so we added some things in the first decision of the first cabinet in such a way, due to which our Sanatan culture has been prevalent in the world for ages. Is known differently. Dr. Mohan Yadav said that under the leadership of the illustrious Prime Minister Shri Narendra Modi, the new education policy 2020 has been implemented, through which India will be known as glorious India. The future generation of that glorious India will be made capable of feeling proud and proud. We have included Veerpadas of Lord Mahavir Swami and Veerpadas of 24 Tirthankaras in the syllabus. On this occasion, Chief Minister Dr. Yadav said that the Ayurvedic Medical College to be started in Sagar has been named after Acharya Vidyasagar Maharaj.

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News