भारतीय पत्रकार संघ एवं तहसील पत्रकार संघ ने निंदा प्रस्ताव किया पारित | Bhartiya patrakar sangh evam tehsil patrakar sangh ne ninda prastav kiya parit

भारतीय पत्रकार संघ एवं तहसील पत्रकार संघ ने निंदा प्रस्ताव किया पारित

भारतीय पत्रकार संघ एवं तहसील पत्रकार संघ ने निंदा प्रस्ताव किया पारित

मेघनगर - वर्तमान सरकार द्वारा पत्रकारो की सुरक्षा या फिर पत्रकार परिवार बीमा जैसी योजना लागू करना कहीं ना कहीं ढोंग नजर आ रहा है। मध्य प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार जीतू सोनी द्वारा उनके अखबार में लगातार हनी ट्रेप मामले  की परत दर परत सच्चाई दिखाने कहीं ना कहीं वर्तमान सरकार को रास ना आया  कुछ विघ्न संतोषी लोगों की शिकायत पर सरकार ने शनिवार देर रात  जीतू सोनी  के इंदौर स्थित प्रेस एवं कार्यालय पर अचानक  रेट कर दी व सूत्र बताते है कि कई पत्रकारों  को धमकाने की भी कोशिश  की गई। पूरे घटनाक्रम  को देखते हुए लगता है कहीं ना कहीं पत्रकारिता का हनन वर्तमान सरकार कर रही है एवं पत्रकारों की स्वतंत्रता छीन कर  पत्रकारों की आवाज दबाने की कोशिश की जा रही है जिसको लेकर  भारतीय पत्रकार संघ एवं तहसील पत्रकार संघ ने सरकार द्वारा की गई कार्रवाई  की निंदा कर  निंदा प्रस्ताव जारी किया  भारतीय पत्रकार संघ के प्रदेश संयोजक सलीम शेरानी ने कहा कि मीडिया और खासकर अखबार निर्णायक मोड़ पर हैं. उन्होंने कहा, यह समय है कि समाचार पत्र उद्योग पर कर लगाने और उसकी राजस्व व्यवस्था पर प्रहार करने के बजाय अखबार जगत का समर्थन किया जाए और उसे मजबूत बनाया जाए नाकि उनकी स्वतंत्रता छीन सच्चाई लिखने वाले अखबार के संपादकों का येन केन प्रकारेण आ जाए। इस अवसर पर कई वरिष्ठ पत्रकारों में अपने विचार साझा किए। इस अवसर पर भारतीय पत्रकार संघ के प्रदेश संयोजक सलीम शेरानी,तहसील पत्रकार संघ के अध्यक्ष प्रकाश भंडारी,भारतीय पत्रकार संघ के अध्यक्ष दशरथ सिंह कट्ठा वरिष्ठ पत्रकार विमल जैन,रहीम हिंदुस्तानी,मूकेश मेहता,सुनील डाबी,नीलेश भानपुरिया, मनीष नाहटा,भूपेंद्र बरमंडलिया, फारुख शेरानी, जियाउल हक कादरी, प्रकाश प्रजापत, जयेश झामर,निसार शेरनी, जाकिर शेख, अमित भंडारी पत्रकार उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments